ANM Course Details in Hindi [2022] | एएनएम क्या है एएनएम नर्सिंग कैसे करें

ANM Course Fees, एएनएम क्या है, ANM Nursing Course, ANM Course Details in hindi, ANM Course Duration, ANM Course Syllabus,

आज के युग में चिकित्सा क्षेत्र में भविष्य को लेकर लोगों की रूचि काफी बढ़ रही है। चिकित्सा के क्षेत्र में डॉक्टर की भूमिका प्रमुख होती है। लेकिन अकेला डॉक्टर मरीज के इलाज में सक्षम नहीं होता है। इसके लिए उसे सहायक कर्मियों नर्सों आदि की जरूरत होती है। सहायक नर्स बनने के लिए ANM and GNM Course दो प्रमुख कोर्स होते हैं।

हमारे इस आर्टिकल में इन एएनएम जीएनएम कोर्स में से एएनएम कोर्स पर जानकारी देने वाले हैं। जो भी विद्यार्थी एएनएम नर्सिंग कोर्स करने में रुचि रखता है, उसके लिए कुछ मुख्य बातों का जानना आवश्यक है। जो कि निम्न है

  • एएनएम का फुल फॉर्म क्या है
  • एएनएम क्या है
  • ANM Course Fees कितनी है
  • ANM Course Duration कितना है
  • एएनएम की सैलरी कितनी होती है
  • ANM Course Syllabus क्या है
  • एनम कोर्स के सब्जेक्ट कौन-कौन से हैं

इन सभी महत्वपूर्ण बातों को हमारे इस आर्टिकल ANM Course Details in Hindi  के अंदर विस्तार पूर्वक बताया गया है। इसके साथ ही इस कोर्स के बाद किस प्रकार के रोजगार के अवसर मिलते हैं तथा इस कोर्स को किन कॉलेजों से करना चाहिए इत्यादि प्रकार की जानकारियां भी इस आर्टिकल में शामिल है।

ANM course details in Hindi
ANM Course Details

इस कोर्स में रुचि रखने वाले विद्यार्थी के लिए सबसे पहले एएनएम फुल फॉर्म के बारे में जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है। नीचे एएनएम का फुल फॉर्म के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया है।

ANM Full Form in Hindi | एएनएम की फुल फॉर्म क्या होती है

एएनएम का फुल फॉर्म  Auxiliary Nurse Midwifery होती है। जिसको हिंदी में ऑग्ˈज़िलिअरि नर्सिंग एंड मिडवाइफरी उच्चारित किया जाता है।  Auxiliary Nurse Midwifery एक अंग्रेजी भाषा का शब्द है। जिसका मतलब सहायक नर्स से संबंधित कोर्स होता है।

ANM Full Form in Hindi:- इस कोर्स को हिंदी में “सहायक नर्स प्रसूति विद्या कोर्स” कहा जाता है।

आसान भाषा में अगर इस फुल फॉर्म को समझा जाए, तो यह चिकित्सा से संबंधित एक ऐसा कोर्स है, जिसमें सहायक नर्स और प्रसूति विद्या के बारे में शिक्षा प्रदान की जाती है।

ANM Nursing Course क्या होता है इसके बारे में अगले भाग में विस्तार पूर्वक जानते हैं। कि आखिर इस कोर्स को करने का मकसद क्या होता है। किसे इस कोर्स को करना चाहिए।

What is ANM course details in Hindi | एएनएम कोर्स क्या है

एएनएम कोर्स चिकित्सा से संबंधित एक डिप्लोमा कोर्स है, जिसके द्वारा विद्यार्थी को सहायक नर्स के रूप में कार्य करना सिखाया जाता है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है। इस कोर्स को 12वीं कक्षा के पश्चात किया जा सकता है।

आगे बढ़ने से पहले आपको एक महत्वपूर्ण बात बता दें, कि इस ANM Nursing Course को सिर्फ महिलाएं ही कर सकती हैं। यानी यह कोर्स पुरुषों के लिए नहीं होता है। अगर पुरुष भी नरसिंग के क्षेत्र में अपना फ्यूचर बनाना चाहते हैं। तो उनके लिए जीएनएम कोर्स एक बेहतरीन विकल्प है। जीएनएम कोर्स को पुरुष और महिलाएं दोनों कर सकती हैं।

ANM Course में महिला विद्यार्थियों को  मरीजों को प्रथम उपचार देना, मरीजों की देखभाल करना, डॉक्टर के निर्देशानुसार मरीजों को दवाई का सेवन करवाना, उनका यह रिकॉर्ड मेंटेन करना, इलाज के दौरान प्रयोग किए जाने वाले उपकरणों के रखरखाव को देखना इत्यादि प्रकार के कार्य करने सिखाए जाते हैं।

एएनएम कोर्स क्या होता है और इसकी फुल फॉर्म क्या होती है जानने के पश्चात अब इस कोर्स में प्रवेश कैसे लिया जाता है। इस कोर्स में प्रवेश लेने की क्या योग्यता होती है। ANM Course Eligibility के बारे में आगे बताया गया है।

ANM Course Eligibility in Hindi | एएनएम कोर्स को कौन कर सकता है

जैसा कि आप ऊपर ध्यान ही चुके हैं, यह कोर्स सिर्फ महिलाओं के लिए होता है। इस कोर्स के लिए पुरुष एलिजिबल नहीं होते हैं। साथ ही इस कोर्स को 12वीं कक्षा की पढ़ाई के पश्चात किया जा सकता है।

इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए जो मुख्य नियम व शर्तें होती हैं, उनका विवरण नीचे दिया गया है।

  • इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए विद्यार्थी का महिला होना जरूरी है। पुरुष इस कोर्स में प्रवेश नहीं ले सकते हैं।
  • इस कोर्स में प्रवेश के लिए बारहवीं कक्षा की पढ़ाई किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से की गई होनी आवश्यक होती है।
  • 12वीं कक्षा में कोई भी विषय हो सकते हैं। लेकिन कुछ कॉलेजों में 12वीं कक्षा में अंग्रेजी का विषय होना अनिवार्य होता है।
  • इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए आयु कम से कम 17 वर्ष होनी आवश्यक है।
  • ज्यादातर कॉलेज में इस कोर्स में प्रवेश परीक्षा के आधार पर प्रवेश दिया जाता है।
  • अन्य कॉलेज 12वीं कक्षा में प्राप्त हुए अंकों के मेरिट के हिसाब से प्रवेश देते हैं।

ऊपर दी गई मुख्य नियम और शर्तों को जो भी महिला विद्यार्थी पूरी करती है। उसे इस कोर्स में प्रवेश मिल जाता है।

ANM Course Eligibility संबंधित जानकारी प्राप्त करने के पश्चात इस कोर्स में लगने वाले समय यानी ANM Course Duration के बारे में जानकारी नीचे दी गई है।

ANM Course Duration in Hindi | एएनएम कोर्स में कितना समय लगता है

एएनएम कोर्स की अवधि 2 वर्ष की होती है, जिसमें चिकित्सा से संबंधित पाठ्यक्रम पर शिक्षा प्रदान की जाती है।  इन 2 वर्षों में शुरू के 18 महीनों में प्रैक्टिकल और थ्योरी के माध्यम से शिक्षा प्रदान की जाती है। जबकि अंत के 6 महीनों में कॉलेज से संबंधित किसी हॉस्पिटल से इंटर्नशिप का अनुभव प्रदान कराया जाता है।

जैसा कि आप जानते हैं, इस कोर्स को बारहवीं कक्षा के पश्चात किया जाता है। जो कॉलेज इसके लिए प्रवेश परीक्षा लेते हैं, उस प्रवेश परीक्षा के पाठ्यक्रम की तैयारी में भी समय लगता है। जो समय इन 2 वर्षों में नहीं जोड़ा गया है।

जो विद्यार्थी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्रतिष्ठित कॉलेजों में दाखिला लेना चाहते हैं। और समय की बचत भी करना चाहते हैं। वे विद्यार्थी अपनी 11वीं और 12वीं कक्षा की पढ़ाई के दौरान ही इस कोर्स की प्रवेश परीक्षा के पाठ्यक्रम को पढ़ लेते हैं।

ANM Course Duration और योग्यता के बारे में जानकारी प्राप्त करने के पश्चात बजट को ध्यान में रखते हुए एएनएम कोर्स फीस के बारे में जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है। एएनएम कोर्स डीटेल्स इन हिंदी मे आगे ANM Course Fees के बारे में बताया गया है।

ANM Course Fees Details in Hindi | एएनएम कोर्स फीस कितनी होती है

जो भी महिला विद्यार्थी इस कोर्स करने का इच्छुक है। उसके लिए इस कोर्स में होने वाले खर्च यानी ANM Course Fees के बारे में उचित जानकारी प्राप्त करना जरूरी होता है।

एएनएम कोर्स की फीस सरकारी कॉलेज में प्राइवेट संस्थानों के मुकाबले बहुत कम होती है। आरक्षित वर्ग की महिला विद्यार्थी को सरकारी कॉलेज में फीस नहीं देनी होती है। जबकि सामान्य जाति वाली महिला विद्यार्थी को बहुत ही कम मात्रा में फीस देनी होती है। यह संख्या ₹5000 से लेकर ₹10000 तक ही होती है।

आपको बताते चलें कि सरकारी कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए प्रवेश परीक्षा को क्लियर करना होता है। उसके बाद मेरिट के आधार पर सरकारी कॉलेज में सीट आवंटित की जाती है।

प्राइवेट कॉलेज की फीस की बात की जाए, तो हर कॉलेज में अलग-अलग फीस होने के कारण इसका कोई एक आंकड़ा दे पाना मुमकिन नहीं है। फिर भी औसत के अनुसार 1 वर्ष की फीस लगभग ₹50000 से लेकर ₹200000 तक चली जाती है।
उदाहरण के तौर पर नीचे कुछ चुनिंदा प्राइवेट कॉलेज की फीस का विवरण दिया गया है।

ANM College NameANM Course Fees
Shri Guru Ram Rai University, Dehradun₹ 258,000
Hind Institute of Medical Sciences, Barabanki₹ 72,000
Singhania University, Jhunjhunu₹ 40,000
YBN University, Ranchi₹ 107,500
IIMT University, Meerut₹ 154,000
Assam Down Town University, Guwahati₹ 300,000
Glocal University, Saharanpur₹ 120,000
Noida International University, Greater Noida₹ 140,000
Krishnaguru Adhyatmik Visvavidyalaya, Nasatra₹ 240,000
SCPM College of Nursing and Paramedical Science, Gonda₹ 195,000
Era University, Lucknow₹ 145,000
Dispur Nursing Institute, Guwahati₹ 170,000
Lord Krishna College of Nursing, Datia₹ 90,000
Rama University, Kanpur₹ 150,000
RIMT University, Gobindgarh₹ 100,000
ANM course fees

हमारे द्वारा दिए गए ऊपर सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज की फीस की जानकारी और वर्तमान समय में उन कॉलेज की फीस के आंकड़े में अंतर हो सकता है। क्योंकि कॉलेज समय-समय पर अपनी फीस में बदलाव करते रहते हैं। इसलिए विद्यार्थी को फीस से संबंधित जानकारी कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर जरूर प्राप्त कर लेनी चाहिए।

ANM Course Fees के बारे में जानने के पश्चात अब आगे इस कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है। एएनएम कोर्स के विषय कौन कौन से होते हैं। ANM Course Syllabus के बारे में जानकारी नीचे दी गई है।

ANM Course Syllabus in Hindi | एएनएम में कौन-कौन से विषय होते हैं

एएनएम कोर्स में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए इस कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है, उसकी जानकारी प्राप्त करना भी जरूरी है। ANM Course Syllabus की बात करें, तो यह पाठ्यक्रम पूरी तरह से चिकित्सा के विषय पर आधारित होता है।

विद्यार्थियों की जानकारी के लिए इस कोर्स के पाठ्यक्रम की वर्ष के अनुसार जानकारी नीचे दी गई है।

फर्स्ट ईयर सिलेबस ( 1st year ANM Course Syllabus)

  • बाल स्वास्थ्य नर्सिंग (Child Health Nursing)
  • स्वास्थ्य प्रचार (Health Promotion)
  • प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल नर्सिंग (Primary Health Care Nursing)
  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग (Community Health Nursing)

सेकंड ईयर सिलेबस ( 2nd year ANM Course Syllabus)

  • दाई का काम  (Midwifery)
  • स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन (Health Center Management)

ऊपर दिए गए पाठ्यक्रम के अनुसार एएनएम कोर्स में पढ़ाया जाता है। एएनएम के विषय इसी पाठ्यक्रम पर आधारित होते हैं।

कोर्स के पाठ्यक्रम की जानकारी प्राप्त करने के बाद जो विद्यार्थी इस कोर्स को करने की रुचि रखते हैं, उनके लिए यह जानना जरूरी है कि इस कोर्स को कैसे किया जाता है।

How to do ANM Course in Hindi | एएनएम कोर्स कैसे करें


इस कोर्स को करने की जानकारी देने से पहले बता दें, कि यह कोर्स सिर्फ महिलाओं के लिए है। पुरुष इस का लाभ नहीं ले सकते हैं।
आइए आप जानते हैं, इस कोर्स को किस प्रकार से किया जाता है। शुरू से लेकर अंत तक की जानकारी नीचे स्टेप बाय स्टेप दी गई है।

How to do ANM Course in Hindi | एएनएम कोर्स कैसे करें

  1. Complete Your 12th Class study

    सबसे पहले 12वीं कक्षा तक पढ़ाई पूरी करें। 12वीं कक्षा की पढ़ाई किसी भी विषयों के साथ की जा सकती है। लेकिन उसमें अंग्रेजी विषय का होना जरूरी होता है।

  2. Prepare for ANM Entrance Exam

    12वीं कक्षा की पढ़ाई के पश्चात ANM Course के एंट्रेंस एग्जाम के सिलेबस की तैयारी करें। यह सिलेबस 12वीं कक्षा तक पढ़ाई गए सिलेबस पर ही आधारित होता है।

  3. Apply for Entrance Exam and Fill Admission Form

    आप जिस भी कॉलेज से एएनएम कोर्स करना चाहते हैं, उस कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन फार्म भरें। यह आवेदन फार्म कुछ कॉलेज में ऑनलाइन उपलब्ध होते हैं। जबकि कुछ कॉलेज में ऑफलाइन कॉलेज में जाकर भरने पड़ते हैं।

  4. Clear Entrance Exam with Good Marks and Get Admission

    एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे नंबरों से पास करें। इसके बाद कॉलेज द्वारा आपको काउंसलिंग के लिए बुलाया जाएगा। वहां पर मेरिट के आधार पर आपका प्रवेश इस कोर्स में हो जाएगा।

  5. Complete your Study and internship

    प्रवेश मिलने के पश्चात शुरू के 18 महीने कॉलेज के सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करके परीक्षा को पास करें। और फिर कॉलेज के अनुसार ही इंटर्नशिप से 6 महीने का अनुभव प्राप्त करें।

  6. Get your Diploma Certificate and apply for your dream job

    कॉलेज की परीक्षा तथा इंटर्नशिप पूरी करने के पश्चात कॉलेज द्वारा आपको इस डिप्लोमा कोर्स का सर्टिफिकेट दे दिया जाएगा। जिसके पश्चात आप जॉब्स के लिए हॉस्पिटल्स में अप्लाई कर सकते हैं।

ऊपर आपने जाना कि ANM Course को कैसे करते हैं, एएनएम कोर्स को करने के पश्चात भविष्य के लिए कैरियर विकल्प के बारे में भी जानना आवश्यक है। हमारे इस आर्टिकल ANM Course Details in hindi में आगे करियर ऑप्शंस के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई है।

Career options after ANM course in Hindi | एएनएम कोर्स के बाद क्या करें

जो भी महिला विद्यार्थी इस एएनएम नर्सिंग कोर्स को कंप्लीट कर लेती है। उसके लिए कैरियर विकल्प के रूप में बहुत सारे ऑप्शन होते हैं।

इस कोर्स का डिप्लोमा हासिल करने के पश्चात महिला विद्यार्थी के पास कैरियर ऑप्शन के रूप में मुख्य रूप से 2 प्रकार के विकल्प होते हैं। वे चाहे तो जॉब के लिए अप्लाई कर सकती हैं या फिर आगे अपना कैरियर नर्सिंग में बनाने के लिए हायर एजुकेशन के लिए जा सकती हैं।

सबसे पहले उन महिला विद्यार्थियों के लिए बात करते हैं, जो इस डिप्लोमा को कंप्लीट करने के पश्चात जॉब्स करना चाहती हैं। एएनएम नर्सिंग की जॉब से संबंधित जानकारी नीचे दी गई है।

Jobs after ANM Course in India | एएनएम कोर्स के बाद जॉब

जो भी महिला विद्यार्थी इस कोर्स के पश्चात रोजगार के रूप में जॉब करना चाहता है। उसके लिए भारत में विभिन्न प्रकार की जॉब उपलब्ध हैं।

विद्यार्थियों की जानकारी के लिए सबसे पहले उन विभागों के बारे में जान लेते हैं, जहां पर इन एएनएम नर्सिंग डिप्लोमा होल्डर्स को जॉब्स के अवसर मिलते हैं।

  • सरकारी अस्पताल
  • प्राइवेट अस्पताल
  • नर्सिंग होम्स
  • निजी क्लीनिक
  • सरकारी डिस्पेंसरी

यह कुछ विभागों के उदाहरण थे, जहां पर ANM Nursing Course डिप्लोमा धारकों को जॉब्स प्राप्त हो सकती है। यह नाम सिर्फ उदाहरण के लिए दिए गए हैं। इनके अलावा और भी बहुत सारे विभाग हैं, जहां पर इस कोर्स के पश्चात नौकरी के अवसर उत्पन्न होते हैं।

अब बात कर लेते हैं, इन विभागों में किस प्रकार की भूमिका में जॉब्स के अवसर मिलते हैं। उदाहरण के लिए प्रमुख भूमिकाओं के नाम नीचे दिए गए हैं।

  • स्टाफ नर्स (Staff Nurse )
  • होम केयर नर्स (Home Care Nurse )
  • नर्सिंग ट्यूटर
  • नर्सिंग स्कूल में शिक्षक
  • पोषक शिक्षक
  • आईसीयू नर्स (ICU Nurse )
  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्स
  • सीनियर नर्स एजुकेटर (Senior Nurse Educator)

यह कुछ भूमिकाओं के नाम उदाहरण के लिए थे, जिन्हें एएनएम डिप्लोमा धारक महिलाएं प्राप्त कर सकती हैं। इनके अलावा भी और बहुत सारे भूमिकाएं हॉस्पिटल्स में उपलब्ध होती हैं, जिन्हें रोजगार के रूप में प्राप्त किया जा सकता है।

लेकिन जो महिला विद्यार्थी इस कोर्स के पश्चात और आगे पढ़ाई करना चाहती हैं उनके लिए जानकारी नीचे दी गई है।

Courses after ANM | एएनएम कोर्स के बाद कौन सा कोर्स करें


जो विद्यार्थी ANM Nursing Course को करने के पश्चात जॉब्स नहीं करना चाहते हैं। या जॉब कर रहे होते हैं और साथ ही आगे कोई और कोर्स भी करना चाहते हैं। उनके लिए भी भारत में विभिन्न प्रकार के कोर्स उपलब्ध हैं। उनमें से कुछ वर्षों के नाम उदाहरण के लिए नीचे दिए गए हैं।

Course after ANM Course

  • बीएससी इन नर्सिंग ( BSc Nursing)
  • बीएससी ऑनर्स इन नर्सिंग ( NSc (H) Nursing)
  • पोस्ट बेसिक बीएससी इन नर्सिंग ( Post Basic BSc Nursing)

यह कुछ बैचलर डिग्री कोर्स थे, जिन्हें एएनएम एंड जीएनएम कोर्स के पश्चात किया जा सकता है। इनके अलावा भी और बहुत सारे कोर्स होते हैं। जिनको इन कोर्सों के पश्चात हायर एजुकेशन के रूप में किया जा सकता है।

अब तक इस आर्टिकल में ANM Course Details  से संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त करने के बाद इस डिप्लोमा के बाद में नौकरी के तहत होने वाली इनकम के बारे में भी जानना आवश्यक है। एएनएम कोर्स सैलरी की जानकारी हमारे इस आर्टिकल के अगले भाग में विस्तारपूर्वक दी गई है। कि आखिर एएनएम की सैलरी कितनी होती है।

ANM Nursing Salary | एएनएम की सैलरी कितनी होती है

यह जानकारी एक अहम जानकारी है, जिसे इस कोर्स के छात्र के लिए जानना आवश्यक है। कि वह इस कोर्स को करने के पश्चात लगभग कितना कमा सकता है।

एएनएम नर्सिंग सैलेरी की बात की जाए, तो औसत के अनुसार शुरुआत में एएनएम की नर्स लगभग ₹10000 से लेकर ₹20000 तक सैलरी हासिल कर लेती है।

बाद में जैसे-जैसे नर्स का अनुभव बढ़ता जाता है, उसके अनुभवी होने के कारण उसकी सैलरी में भी वृद्धि हो जाती है । जो आगे चलकर ₹30000 से भी ऊपर चली जाती है।

जो लोग इस कोर्स को करने के पश्चात भारत से बाहर विदेशों में चले जाते हैं। उनके लिए इस कोर्स के माध्यम से कमाई भारत के मुकाबले अधिक होती है।

अब तक जॉब्स और एएनएम की सैलरी कितनी होती है के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद इस कोर्स को किस कॉलेज से किया जाना चाहिए, इसके बारे में भी जानना आवश्यक है। हमारे इस आर्टिकल के अगले भाग में इसी के बारे में विस्तार से बताया गया है।

Top College for ANM in India | एएनएम कोर्स के लिए टॉप कॉलेज

अगर आप ANM Course के माध्यम से एक अच्छी जॉब और एक अच्छी सैलरी प्राप्त करना चाहते हैं। तो उसको उसको किसी प्रतिष्ठित संस्थान से करना अति आवश्यक होता है।

विद्यार्थी की जानकारी के लिए बता दें, कि अगर हो सके तो इस डिप्लोमा कोर्स को प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्राप्त होने वाले कॉलेज से ही करना चाहिए। क्योंकि बारहवीं कक्षा के मेरिट के आधार पर प्रवेश देने वाले कॉलेजों के मुकाबले यह कॉलेज इस एएनएम डिप्लोमा कोर्स की शिक्षा के लिए बेहतर होते हैं।

वैसे तो भारत में ऐसे बहुत सारे कॉलेज प्रचलित हैं, जहां पर एएनएम कोर्स कराया जाता है। विद्यार्थियों की जानकारी के लिए उदाहरण के तौर पर हम कुछ मुख्य कॉलेजों के नाम नीचे सूची में दे रहे हैं।

Top College list for ANM Course

  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, भुवनेश्वर
  • विवेकानंद कॉलेज ऑफ नर्सिंग, लखनऊ
  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, दिल्ली
  • अपोलो स्कूल ऑफ नर्सिंग, दिल्ली
  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हाइजीन एंड पब्लिक हेल्थ, कोलकाता
  • राजीव गांधी पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट, दिल्ली
  • बोरा इंस्टीट्यूट ऑफ अलाइड हेल्थ साइंस
  • एरा नर्सिंग कॉलेज, लखनऊ
  • क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज, बेल्लूर, तमिलनाडु
  • अहिल्याबाई कॉलेज ऑफ नर्सिंग, दिल्ली
  • सिम्बोसिस इंटरनॅशनल यूनिवर्सिटी
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च
  • बरेली इंटरनॅशनल यूनिवर्सिटी
  • रुहेलखंड मेडिकल कॉलेज, बरेली

यह कुछ कॉलेजों के नाम पर जहां से एएनएम कोर्स के डिप्लोमा को एक उचित शिक्षा के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा भी भारत में और बहुत सारे संस्थान है, जहां पर इसको डिप्लोमा कोर्स की उचित शिक्षा प्रदान की जाती है।

यहां तक जानने के पश्चात अंत में जो विद्यार्थी जीएनएम जीएनएम कोर्स को लेकर कंफ्यूज हो रहे हैं। उनको बता दें कि यह दोनों कोर्स अलग-अलग है ।

विद्यार्थी की जानकारी के लिए यहां पर हम इन दोनों कोर्सों के अंतर के बारे में नीचे बता रहे हैं।

ANM and GNM Course Difference in Hindi | एएनएम और जीएनएम कोर्स में अंतर


जो विद्यार्थी इन दोनों ANM and GNM Course के लेके कंफ्यूज रहते हैं। कि यह दोनों को एक ही हैं या अलग अलग है। तो उन लोगों को के लिए हम यहां पर इन दोनों कोर्सों के कुछ मुख्य अंतर बताने वाले हैं।

GNM CourseANM Course
जीएनएम कोर्स को पुरुष और महिलाएं दोनों कर सकते हैंएएनएम कोर्स सिर्फ महिलाओं के लिए है
जीएनएम कोर्स की अवधि 3 वर्ष होती हैएएनएम कोर्स को 2 वर्षों में पूरा किया जाता है
जीएनएम की फुल फॉर्म General Nursing And Midwifery होती हैएएनएम की फुल फॉर्म   Auxiliary Nursing And Midwifery होती है
ANM and GNM Course

एएनएम और जीएनएम कोर्स के यह कुछ मुख्य अंतर थे। अधिक जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट पर जीएनएम कोर्स से संबंधित आर्टिकल को पढ़ सकते हैं।

हमारा यह आर्टिकल ANM Course Details पर आधारित था। जबकि जीएनएम कोर्स डिटेल्स पर भी हमने इसी वेबसाइट पर आर्टिकल लिखा हुआ है आप इसी वेबसाइट पर सर्च ऑप्शन में “GNM Course Details in Hindi” लिखकर उस आर्टिकल के बारे में पढ़ सकते हैं।

ANM Course  पर आधारित हमारा यह आर्टिकल अब यहीं पर समाप्त होता है। इस आर्टिकल के माध्यम से आपने एएनएम फुल फॉर्म,एएनएम कोर्स फीस, एनम कोर्स कैसे करें, ANM Course Syllabus, एनम कोर्स की सैलरी इत्यादि विषयों पर जानकारी प्राप्त की।

आप हमारे इस आर्टिकल पर जिस भी मकसद से आए थे, उम्मीद करते हैं हम आप को संतुष्ट करने में कामयाब हुए होंगे। लेकिन फिर भी अगर कोई ऐसा सवाल जिसका जवाब आपको इस आर्टिकल में नहीं प्राप्त हुआ है, तो उस सवाल को नीचे टिप्पणी के माध्यम से हमारी टीम के पास पहुंचाएं। हमारी टीम आपको जल्द से जल्द उस सवाल का उचित जवाब देगी।

इस आर्टिकल के अंत में हमने ANM Course Details से संबंधित आम पूछे जाने वाले कुछ सवाल जवाब ऐसे क्यों के रूप में दिए हैं। यह सवाल जवाब एएनएम कोर्स में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए महत्वपूर्ण जानकारी वाले हो सकते हैं ।

FAQ

एएनएम कोर्स कितने वर्ष का होता है

एएनएम कोर्स कुल 2 वर्षों का होता है, जिस में शुरुआत के 18 महीने एकेडमिक पढ़ाई होती है और अंत के 6 महीने अनुभव के लिए इंटर्नशिप करनी होती है ।

ANM की फुल फॉर्म क्या होती है?

ANM की फुल फॉर्म Auxiliary Nursing and Midwifery होती है। जिसे हिंदी में ऑग्ˈज़िलिअरि नर्सिंग एंड मिडवाइफरी उच्चारित किया जाता है।

एएनएम नर्सिंग किस प्रकार का कोर्स होता है

एएनएम नर्सिंग एक डिप्लोमा कोर्स होता है। जिसके माध्यम से सहायक नर्स बना जा सकता है। इसकी अवधि 2 वर्ष होती है।

क्या लड़के भी एएनएम नर्सिंग कर सकते हैं?

जी नहीं! एएनएम नर्सिंग कोर्स को लड़के नहीं कर सकते हैं। यह कोर्स सिर्फ महिलाओं के लिए होता है। विकल्प के रूप में लड़कों के लिए जीएनएम नर्सिंग कोर्स होता है।

4 thoughts on “ANM Course Details in Hindi [2022] | एएनएम क्या है एएनएम नर्सिंग कैसे करें”

Leave a Comment